Click to Download this video!

सहेली के नक़्शे कदम पर चल कर

Saheli ke nakshe kadam par chal kar:

sex stories in hindi, hindi porn kahani

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम स्वर्णिमा है और मैं कानपुर की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 19 वर्ष है और मैं अभी कॉलेज में रह कर बी.एस.सी की पढाई कर रही हूँ | मैं दिखने में ज्यादा सुन्दर तो नहीं है लेकिन मेरा रंग गेंहुआ है और मेरी हाईट 5 फुट 6 इंच हाईट है | पतला और सेक्सी फिगर है | मेरे दूध का साइज़ 28 है और कमर 32 है और मेरे चूतड़ 34 है और गोल है | दोस्तों आज मैं आप लोगो के सामने अपनी एक सच्ची कहानी ले कर पेश हुई हैं और आशा करती हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी बहुत अच्छी लगेगी और आप लोग उत्तेजित हो जाओगे मेरी कहानी पढ़ कर | तो अब मैं आप लोगो के समय को व्यर्थ न करते हुए अपनी कहानी पेश करती हूँ | मेरे घर में मैं, पापा, और मम्मी रहते हैं | दोस्तों मैं आप लोगो को बता दूं कि मैं स्कूल के समय से ही बहुत बिगड़ चुकी थी | मेरे स्कूल के समय में मुझे कुछ ऐसे नायब दोस्त मिले जिन्होंने मुझे सिगरेट पीना सिखाया | एक बार की बात है हम 9वी क्लास में थे और मेरी एक सहेली थी जिसका नाम रानी थी |

उसके पापा सिगरेट पीते थे तो एक दिन उसने स्कूल में सिगरेट ले कर आई और हम दोनों बेस्ट फ्रेंड थे तो उसने बस मुझे बताया | अब मुझे तो पता नहीं था कि सिगरेट पीते कैसे हैं ? तो मैंने उससे पुछा कि तुझे पता है क्या इसे इसे कैसे पीते हैं | तो उसने कहा हाँ मेरे पापा सबसे पहले सिगरेट मुंह में फंसाते हैं और फिर आग लगा कर खींचते हैं जोर से अन्दर | मैंने कहा अच्छा चल फिर एक बार कोशिश करते हैं | जब लंच हुआ तो सब के सब बच्चे बाहर खाने जाते हैं तो मैं और रानी ने पहले ही टिफ़िन खा लिया और उसके बाद लंच के समय बाथरूम गए वहां पर मैंने जैसे ही सिगरेट का धुआं अन्दर ली तो मेरे मुंह से जोर जोर से खांसी आने लगी और मेरी आँख से आँसू आने लगे | मैंने उससे कहा अबे क्या है ये ? इतनी बेकार है | ऐसा लग रहा है जैसे मैं मर जाउंगी | तो उसने कहा देख ऐसे पीते हैं | उसने बड़े ही अच्छे से सिग्रेर्ट पी कर खंत कर ली | ये देख कर मैं चौंक गई | मैंने स्कूल के बाद एक सिगरेट का पैकेट लिया और सोचा कि घर में जा कर पियूंगी | ऐसा करते करते मुझे सिगरेट पीते बनने लगा | जब हम कॉलेज में आये तो उसने मुझे ड्रिंक करना भी सिखाया | ऐसे ही मेरी जिन्दगी चल रही थी | इसी बीच एक लड़का था जिसका नाम मुकेश है और वो अभी भी मेरा बॉयफ्रेंड है | एनुअल फ़्फ़ुन्क्तिओन के समय उसने मुझे प्रोपोस किया था | अब जवानी का नया नया चस्का मुझे भी चढ़ा था तो मैंने भी उसे मना नहीं किया और उसको हां में जवाब दिया |

ये बात मैंने जब रानी को बताई तो उसे बहुत दुःख हुआ | मैंने उससे पुछा दुखी क्यूँ हो रही है ? तो उसने कहा कि यार पापा का ट्रान्सफर दिल्ली हो रहा है | ये बात सुन कर मुझे भी दुःख हुआ क्यूंकि वो मेरी एक लौटी दोस्त थी | फिर कुछ हफ्ते बाद वो चले गई | हम दोनों एक दूसरे दूर हो कर बहुत रो रहे थे और मैं उसे स्टेशन भी चोधने गई थी | खैर कुछ समय के बाद मैं भी धीरे धीरे नार्मल होने लगी | अब मैं ज्यादा मस्ती नहीं कर पाती थी | बस हम दोनों जब फ़ोन पर बात करते तो हम दोनों का यही रंडी रोना रहता कि यार अब जिन्दगी में मजे करने का मन नही होता है | उसने वहां रह कर ब्लू फिल्म देखना चालू कर दी और उसने ये बात मुझे भी बताई | मैंने सोचा कि चलो सारे करम तो कर लिए अब ये भी कर के देखा जाए | जैसे ही मैंने अपने पीसी में ब्लू फिल्म लगाईं | मेरी तो हालत ही ख़राब होने लगी | बाप रे ये होती है ब्लू फिल्म | मैं तो तौबा तौबा करने लगी | उसके बाद मैंने ब्लू फिल्म देखना बहुत ही कम कर दी | फिर एक दिन उसने मुझे बताया कि उसका एक बॉयफ्रेंड बन चुका है और वो उसके साथ चुदाई भी कर चुकी है तो मेरी भी इच्छा हुई |

एक दिन मैंने अपने बॉयफ्रेंड से पुछा कहाँ हो ? तो उसने कहा यार मैं तो बस अपने दोस्त के घर आया हुआ हूँ | फिर मैंने उससे कहा कि यार मुझे तुमसे मिलना है अभी | तो उसने कहा ठीक है सदर में आ जाओ वहां पर जो इंडियन कॉफ़ी हाउस हैं वहीँ पर मिलते हैं | मैंने कहा ओके और फ़ोन काट दी | शाम के 6 बजे मेरी कोचिंग रहती है तो मैं कोचिंग न जा कर वहां चले गई | उसने पुछा आज मिलने की वजह ? तो मैंने उससे कहा यार मुझे तुम्हारे साथ सेक्स करना है | उसके हाव भाव देख कर तो ऐसा लग रहा था जैसे वो इसी दिन का इन्तेजार कर रहा हो | उसने कहा कि ठीक है पर मेरा घर खाली नहीं रहता | तो मैंने कहा कोई बात नही मेरा घर जब खाली रहेगा तो मैं तुम्हे बुला लूंगी | एक बार रात में मम्मी पापा को शादी में जाना था | तो घर वाले तो 8 बजे निकल गए और मुझे बहुत अच्छे से पता था कि मेरे घर वाले कभी 11 बजे से पहले नहीं आते हैं | उसके बाद जैसे ही उनलोग गए मैंने बॉयफ्रेंड को फ़ोन किया और कहा यार मेरा घर खाली है तो तुम आ जाओ | उसने कहा डार्लिंग तुम चिंता मत करो तुम्हारे ही घर के पास था |

अभी मेरे सामने ही तुम्हारे मम्मी पापा निकले हैं | वो 5 मिनट में ही मेरे घर आ गया | मैंने उसे अन्दर बुलाया और दरवाजा बंद कर ली | फिर उसने मेरा हाँथ पकड़ कर अपनी ओर खींचा और मुझे अपनी बांहों में भर लिया | उसके बाद उसने मेरे होंठ से अपने होंठ लगा लिया और मेरे होंठ को चूसने लगा | मुझे भी अच्छा लग रहा था तो मैं भी उसके होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हए उसके बदन को सहला रही थी और वो मेरे होंठ को चूसते हुए मेरे चूतड़ को दबा रहा था | कुछ देर किस करने के बाद उसने मेरे टॉप को निकाल दिया और ब्रा तो मैंने पहना ही नहीं था तो उसने तुरंत ही मेरे दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा जिससे मेरे मुंह से आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह की मादक सिस्कारियां निकलने लगी | वो मेरे दोनों दूध को बारी बारी से जोर जोर से दबा कर चूस रहा था और मैं आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह करते हुए सिस्कारियां ले रही थी | फिर उसने अपने भी कपड़े उतार दिया और मेरे सामने नंगा हो गया | उसका लंड ज्यादा बड़ा तो नहीं था लेकिन मुझे बस चुदाई चाहिए थी | उसने मेरे लोअर को उतार दिया और मुझे लेटा कर मेरी पेंटी को भी खींच कर उतार दिया | अब मैं उसके सामने नंगी पड़ी थी | उसने मेरे दोनों पैरो को चौड़ा कर दिया और अपनी जीभ मेरी चूत पर फेर कर चाटने लगा तो मैं आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह करते हुए झड़ गई |

उसने सारा रस चाट लिया और फिर मेरे दोनों दूध को जोर जोर से मसल कर मेरी चूत को चाटने लगा और मैं आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | फिर उसने लंड चूसने को कहा तो मैंने झट से उसके लंड को मुंह में ले कर चूसने और चाटने लगी | उसके मुंह से भी आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह की सिस्कारियां निकल रही थी | मैं उसके लंड को ऊपर नीचे करते हुए चूस  रही थी साथ में गोटों को भी सहला रही थी और वो आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह करते हुए मेरे दूध को दबा रहा था | फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत में टिका कर अन्दर घुसेड दिया और चोदने लगा तो मैं भी आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह आहा ऊंह उमह करते हुए सिस्कारियां भर रही थी | वो जोर जोर से मेरी चूत को चोद रहा था और मैं भी मजे से अपनी चूत चुदाई के मजे ले रही थी | कुछ देर की चुदाई के बाद उसने अपना माल मेरी चूत के ऊपर निकाल दिया | अब हमे जब भी मौका मिलता है तो हम चुदाई कर लेते हैं | उसने एक बार मेरी गांड भी चोदा है |


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


hindisex storieaunty ki chudai kahani in hindidesi chudai story comjija ne choda sali komastani chut ki chudaihindi incest sex storiesfirst sex story in hindiaunty ki chudai ki hindi storyhot and sexy stories in hindi fontkamukha hindihindi me chudai storychut dekhasadhu pornlatest hot hindi sex storiesnepali girl ki chudainew sex marathikamukta sex story combehan ki chudai story hindibiwi ko chudwayapadosi sexnaukrani ki gaandladki ki gand chudaigroup me chudai ki kahaniaunty suhagratchut me bullahindi bp sexjija sali ki chudai ki hindi kahanistory of lund and chut7 saal ki ladki ko chodachudai ki ladkinai chudai ki kahaniaunty chootsunitha auntybaba ne mujhe chodabhabhi devar ki chudai combollywood actress ki chudai storypehli suhagrat ki chudaipurana sexkinnar ki chutmoti gaand wali aunty photonangi chudai kahanihindi chudai bhabhi kigadhe ki gaandsuhagrat saxbhabhi suhagratsexy sexy story hindiantarvasna ki hindi kahanimami ki bur ki chudaichudaii ki kahanibhabhi ki mast chudai hindi sex storybehan ko bus me chodadevar bhabhi sex story in hindikanwari chootxxx sexy kahanibhua ki ladki ki chudaiapni maa ki chudai storyfree hindi porn storieskek lagakar nude chut ki chataitamana saxfamily chudai comrandi bana diyahindi sex story hindi meauntysexkahanichudai vartasavita bhabhi chudai in hindirajasthani sex hindibhabhi ko choda story hindibaap beti chodamaa beta ki chudai ki kahanilatest hindi chudai kahanikuwari teacher ki chudaibhai bahan ki chudai kahani hindibhabhi ki brasexy story behanchudai com inchut ki khujlichoot main lund ki photopati ne chudwaya