Click to Download this video!

कुंवारी चूत को चोदने का सुख

Kunwari chut ko chodne ka sukh:

indian porn stories

जो भी इस कहानी को पढ़ रहा है उसको मेरा नमस्ते | मैं जतिन हूँ और पहले मैं बहुत पतला दुबला हुआ करता था फिर एक बार मेरे एक दोस्त ने मुझे एक लड़की पटाने की सलाह दी और मैंने उसकी बात मान कर एक लड़की पटा भी और फिर मैं अपनी सारी प्रॉब्लम भूल गया क्यूंकि उसकी वजह से प्रोब्लेमें आ रही थी उनसे ध्यान हटता तभी तो खुद के बारे में सोच पाते न | खैर ये सब बकचोदी तो होती रहेगी लेकिन मैं आपसे सिर्फ एक सवाल करना चाहता हूँ क्या आपने कभी वर्जिन लड़की चोदी है ?क्या आपने कभी सील पैक चूत का उद्घाटन किया अगर नहीं, तो ये कहानी आपके लिए है इसको पढ़के आपको पता चलेगा सील पैक चूत मारने के मज़े और उसमें आने वाली दिक्कतों के बारे में | तो आईये एक नज़र डालते है कहानी पर |

26 जनवरी का दिन और स्कूल में हमारा ये आखरी साल था | उस दिन मैं और मेरे दोस्त क्लास में बैठे थे, तो मुझे प्यास लगी और मैं अकेले ही पानी पीने चला गया | जब मैं नल के पास गया तो मेरी क्लास की एक लड़की जिसका नाम कनिका है वो वहां खड़ी होकर नल से छेड़छाड़ कर रही क्यूंकि पानी नहीं आ रहा था | हमारा स्कूल था ही कंत्री, कोई चीज़ ठीक से चलती ही नहीं थी | मैंने कहा रुको ऐसे करने से कुछ नहीं होगा, मैं पीछे गया और देखा की बटन बंद है तो मैंने बटन चालू किया लेकिन मशीन चालू नहीं हुई | फिर मैं आगे आया तो उसने कहा कर लिया चला ली मशीन, तो मैंने फिर एक लात मारी मशीन में और मशीन चालू हो गई | उसने कहा वाह तुम तो पहले से ही इंजीनियर बन गए और मशीन ठीक करने लगे | हम दोनों ने पहली बार बात की थी जबकि 4 साल से एक ही क्लास में पढ़ते थे | दिखने में लड़की अच्छी थी और बहुत से लड़के उसको पटाने में लगे थे लेकिन किसी से नहीं पटी | किस्मत से हम दोनों एक ही कॉलेज में गए और ब्रांच भी एक लेकिन इस बार सेक्शन बदल गए थे | एक साल बाद जब बहुत से बच्चों ने छोड़ा तो दोनों सेक्शन एक कर दिए गए लेकिन फिर भी हमारी बात नहीं होती थी मतलब वैसे बात नहीं होती थी जो रात रात भर मोबाइल पे होती है वो वाली |

एक दिन मैं ऐसे ही जा रहा था तो कनिका ने मुझे आवाज़ दी और कहा जतिन ये देखो ज़रा ये फ़िल्टर चल नहीं रहा है ठीक करो इसको | मैं उसके पास गया और कहा देखो मैं तुम्हारे लिए फ़िल्टर क्यों ठीक करूँ तुम मेरी गर्लफ्रेंड तो हो नहीं और नीचे भी फ़िल्टर है तो तुम वहां से जाके पानी भर सकती हो | स्कूल में कनिका बहुत शांत स्वभाव की थी लेकिन कॉलेज में आकर बिगड़ गई थी, उसनेहाँ ठीक है भर लुंगी और रही बात तेरी गर्लफ्रेंड की तो मैं तो क्या कोई नहीं बनेगी तेरी गर्लफ्रेंड | भाई ये बात मुझे अन्दर तक टच कर गई और मैंने ठान लिया कि अब अगर किसी को गर्लफ्रेंड बनाऊँगा तो इसी को | फिर मैं क्लास गया और जब वो आई तो मैं उसके पास गया और कहा आई एम सॉरी कनिका, वो मुझे पता नहीं मैं क्या बोल रहा था मुझे लगा तुम मेरा मजाक उड़ा रही हो | उसने कहा नहीं मुझे लगा तुम सही में वो सब कर लेते हो इसलिए कहा था | फिर हम दोनों की रोज़ाना बातें होने लगी और मैंने फिर उसका नंबर ले लिया | फिर मैंने मैसेज से बातें करना शुरू की और कॉल तक पहुँच गया| 27 जुलाई को शाम के 7 बजे मैंने उसको प्रोपोस मारा और उसने मना कर दिया | उसने कहा मुझे करियर बनाना है और मेरे पास इन सब के लिए वक़्त नहीं है लेकिन मुझे पता था पटेगी तो ज़रूर ये और 12 अक्टूबर को दिन के 11 बजे उसका मैसेज आया आई लव यू टू | मुझे कोई फर्क नहीं पड़ा क्यूंकि इतने बीच में मैंने एक लड़की और फसा ली थी जो दूसरे कॉलेज की थी और उसकी ले भी ली थी लेकिन अभी तक चल रही थी | फिर मैंने उससे ब्रेकअप किया और इससे पैचअप लेकिन कुछ भी हो लड़की अभी भी बहुत सीधी साधी थी समझ ही नहीं पाई मैंने उसको सिर्फ अपने मन की शांति के लिए पटाया है क्यूंकि उसको चोदते समय को उसकी चीखें निकलेंगी उनसे मुझे तस्सली मिलेगी |

बहुत समय हो गया उसने मुझे किस करने तक नहीं दिया लेकिन जब एक दिन मैंने उससे बहुत बार कहा कि आज तो मैं किस लेके ही रहूँगातब कहीं जाके उसने किस करने दिया, उस दिन हम थिएटर गए हुए थे | मैंने दो बार किस किया और फिर थोड़ी देर में ही फिल्म ख़त्म हो गई | मैंने तो अब मन बना लिया था कि इसकी लेनी है लेकिन इसने जब किस इतनी मुश्किल से दी थी तो चोदने की बात तो असंभव सी लग रही थी लेकिन मैंने फिर भी रास्ता निकल लिया | मैंने धीरे धीरे अश्लील बातें शुरू की और कुछ समय बाद उसको को इंटरेस्ट आने लगा, तो फिर हम दोनों मिलके चुदाई की बातें और फ़ोन सैक्स किया करते थे लेकिन वो चुदने के लिए मान ही नहीं रही थी, बोलती थी मैं ये अपने पति के लिए संभल के रखना चाहती हूँ | फिर मैंने उसको भड़काया कहा देखो आजकल के लड़के बहुत ख़राब है कोई भी ठीक नहीं है हर किसी ने सैक्स किया है और कोई वर्जिन नहीं है तो तुम क्यों रहना चाहती हो किसी ऐसे पति के लिए | बस वो मेरी बातों में आ गई और फिर मैंने कहा देखो आज मैं हूँ और मौका भी है तो ज़िंदगी के मज़े लूट लो क्या पता कल क्या होना है | ऐसे एक दो बातें चिपकाने के बाद वो मान गई और उसी दिन मैं उसको लेके होटल पहुँच गया क्यूंकि दिमाग तो दिमाग है पलटने में ज्यादा देर थोड़ी न लगती है | मुझे आज भी अपने उस फैसले पर फक्र है क्यूंकि आगले दिन ही उसने कहा था कि हमें ऐसा नहीं करना चाहिए था | मैं उसको लेकर होटल पहुँचा और रूम तो मैंने पहले ही बुक कर दिया था ऑनलाइन | मैंने काउंटर से चाबी ली और उसके साथ कमरे में पहुँच गया | हम दोनों जाके सोफे पे बैठे और पहले मैंने उसको समझाया कि हम जो कर रहे है वो बिलकुल भी गलत नहीं है और फिर उसकी कमर में हाँथ डालके उसको अपने पास खिंचा और उसकी गर्दन को चूमने लगा |

उसने तब लम्बी लम्बी सांसें लेना शुरू कर दिया था और आखें बंद करके पूरा एहसास ले रही थी | फिर मैंने उसके होंठों को चूमना शुरू किया और फिर वो सोफे पर ही लेटने लगी तो हम किस करते हुए वहीँ लेट गए | किस करने के बाद मैंने उसका टॉप उतारा और ब्रा ऊपर करके उसके दूध चूसना शुरू किया, तो पहले तो वो थोडा हँसी लेकिन बाद में उम्म्म्म उम्म्म अहह अह्ह्ह उम्म्म करते हुए मेरे बालों में अपना हाँथ फिराने लगी | मैं उसके निप्पलों को जोर जोर चूसने लगा और उनपर जीभ फिराने लगा औरउम्म्म्म उम्म्म अहह अह्ह्ह उम्म्म करती रही | दूधचूसनेके बाद मैंने उसकी जीन्स उतारी और फिर उसकी पैंटी भी और उसकी चूत देखने लगा क्यूंकि मैंने उसके पहले कभी सील पैक्ड चूत नहीं देखी थी | मैंने उसकी चूत को थोड़ी देर तक चाटा और फिर अपनी जीन्स उतारी और चड्डी भी और उसके मुँह के पास लंड ले जा के उसको चुसाने लगा | उसने थोड़ी देर तक मेरा लंड चूसा और उसके बाद मैं उसकी चूत के सामने खड़ा हुआ और उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा और वो आँखें बंद करके लम्बी लम्बी सांसें लेने लगी | फिर मैंने उसकी चूत में जब लंड डाला तो जैसे ही थोडा सा अन्दर गया वो कहने लगी नहीं नहीं बाहर निकालो | मैंने थोड़ा सा लंड बाहर निकाला और फिर एक शॉट मारा और लंड अन्दर डाल दिया | जैसे ही मेरा लंड अन्दर गया उसने जोर से चद्दर को पकड़ लिया और उसके पैर कपने लगे| फिर मैंने उसके पैर पकडे और उसको चोदने लगा और वो चीखते हुए अहह हहह ह्ह्ह अह्ह्ह अहह अहह आआआ अह्ह्ह आआअ अह्ह्ह अहह य्ह्ह्ह य्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह करती रही | मैंने उसको इसी तरह चोदता रहा और वो चिल्लाती रही | थोड़ी देर बाद जब मैंने लंड बाहर निकाला तो मेरे लंड पर खून लगा हुआ था फिर मैंने उसको नहीं चोदा और लंड हिलाकर उसके ऊपर वीर्य झड़ा दिया | वीर्य गिराने के बाद मैंने अपने लंड साफ़ किया और वापस आके देखा तो उसकी चूत पर भी खून लगा था तो मैंने उसकी पैंटी से ही उसकी चूत साफ़ कर दी और फिर उसको वहीँ लेटे रहने दिया | थोड़ी देर बाद जब वो उठी तो उससे ठीक से चलते ना बने इसलिए हम बहुत देर तक होटल में ही रुके और उसके बाद जब उसको ठीक लगा तभी ही घर गए |


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


sexy randi ki chutbhikari ne chodasex hindi filamapni cousin ki chudaiantarvasna free hindi storymadam ne chodamaa ko choda hindichut lund chudai storychut marne k tarikemaa bete ki chudai ki new kahanisuhagraat ki kahani videomaa bahan ki chudaivasna hindi movienew marathi sexy kathasasur ki rakhelsex pojchodne ki kahani hindilatest kahanidesi sexi storysex story bhai bahangujarati chudai storybeti ki chudai ki kahani in hindiindian sex stories antarvasnanind me maa ko choda10 saal ki ladki ki chudaijija sali sex hindisexy ladka ladkiapni maa ko chodahot sexy khaniyabahan ki chudai hindi fontnamaste porn indianchudai ki sex storychudai behando land ek chutkuwari ladki ki choot ki photochhoti bahan ki chutpure hindi chudaijangal mein mangal sex videosvita bhabi comsex story in marathi newsil todnagaand gayteacher chutjeth bahu ki chudaifree hindi sex stories sitesjabardasti chudai kididi ko patayameri chachi ki chutantarvasna hindi sex story 2014sexy story hindi maimausi ji ki chudaihinde sax satoremom ki chootmadhosh jawaninangi aunty chudaiantarvasna hindi sexymaa beta ki sexgarmi me chudaimujhe teacher ne chodafati hui chootbehan ki gand mari sote huegalti se chud gayisex story chutsali ko choda kahanihinde sax storymaine chodaaunty ki chut in hindichudai ki story with picchut ki seal kaise tutti haimaa bete ki chudai sex storysexi kahaniy