Click to Download this video!

एक्टिंग क्लास के लड़के से अपने चूत मरवाई

Acting class ke ladke se apni chut marwayi:

hindi sex stories, kamukta

मेरा नाम आरोही है और मैं मुंबई की रहने वाली एक लड़की हूं। मेरी उम्र 20 वर्ष है और मैं कॉलेज भी पढ़ती हूं उसके बाद मैं अपनी एक्टिंग क्लास जाती हूं क्योंकि मुझे बचपन से ही एक्टिंग करने का बहुत ही शौक था और मैं अपने स्कूल में भी बहुत प्रोग्रामो में हिस्सा लिया करती थी और अब कॉलेज में भी हमारे प्रोग्राम होते हैं तो उनमें भी मैं हिस्सा लिया करती हूं। सब लोग मुझे कहते हैं कि तुम बहुत ही अच्छे से एक्टिंग करती हो इसलिए मैंने एक्टिंग क्लास जॉइन कर लिया और जब मैं एक्टिंग क्लास में गई तो वहां पर बहुत ही लड़के और लड़कियां आते है।

जहां एक्टिंग क्लास में मैं एक्टिंग सीख रही थी, वहां पर एक लड़का आता था उसका नाम रौनक था। वह बहुत ही अच्छी एक्टिंग किया करता था। मैं अक्सर उसे देखती थी क्योंकि वह काफी पहले से एक्टिंग कर रहा था और मुझे जब कोई हेल्प चाहिए होती थी तो मैं रौनक से ही पूछ लिया करती और हम लोग साथ में ही एक्टिंग किया करते थे। अब हम दोनों की नजदीकियां बढ़ने लगी थी और रौनक को मुझ में इंटरेस्ट आने लगा था। वह भी मेरे साथ चैटिंग करना बहुत ही पसंद किया करता था। जब कभी ऑडिशन होते थे तो हम दोनों साथ में ही जाया करते थे। रौनक दिल्ली का रहने वाला है और वह मुंबई में 2 साल से रह रहा था। रोनक ने मुझे बताया कि उसके पिता एक बड़े बिजनेसमैन है लेकिन उसे एक्टिंग का शौक था इसलिए वह मुंबई आ गया। मुझे भी रौनक के साथ समय बिताना अच्छा लगता था। एक दिन रौनक और मैं घूमने चले गए। जब हम दोनों साथ में गए तो उस दिन हम लोगों ने पूरी प्लानिंग की थी कि हम लोग सुबह पहले मूवी देखेंगे उसके बाद हम लोग अन्य जगह जाएंगे। जब सुबह रौनक मुझे मिला तो मुझे वह अपनी बाइक पर ले गया। मैं उसके पीछे बाइक पर बैठी हुई थी और अपने ही ख्यालों में खोई हुई थी। रौनक मुझसे बात कर रहा था और मैं भी उससे बात किए जा रही थी। हम दोनों बहुत ही खुश थे और मैं तो कुछ ज्यादा ही खुश थी क्योंकि रौनक के साथ मैं पहली बार कहीं घूमने जा रही थी। जब हम लोग मूवी देख रहे थे तो उसी बीच हम दोनों ने एक दूसरे के हाथ को अच्छे से पकड़ लिया था और मैं बहुत ही ध्यान से मूवी देख रही थी। मैं कई बार रौनक को भी देख लिया करती जिससे कि रौनक को भी बहुत अच्छा लग रहा था और वह भी मुझे ध्यान से देख रहा था। मैंने भी उसे पॉपकॉर्न अपने हाथ से खिला दिया। वह बहुत ही खुश हुआ और अब वह भी मुझे पॉपकॉर्न अपने हाथों से खिलाने लगा। वह जब मेरे मुंह के अंदर पॉपकॉर्न डालता तो मैंने उसकी उंगली को काट दिया जिससे कि वह बहुत ज्यादा चिल्लाने लगा और कहने लगा कि तुमने मेरी उंगली को काट दिया है। मैंने उससे कहा कि इतना ज्यादा भी नहीं काटा कि तुम्हारी उंगली से खून निकल आया हो। अब वह जोर जोर से हंसने लगा और सब लोग हमारी तरफ देखने लगे। उसके थोड़ी देर बाद वह चुप हो गया। रौनक और मैं बहुत ही खुश थे।

जब मूवी खत्म हुई तो उसके बाद हम लोग वहां से मॉल चले गए और मैंने सोचा कि मैं कुछ शॉपिंग कर लेती हूं क्योंकि काफी समय से मैंने कुछ शॉपिंग भी नहीं की थी। अब हम दोनों शॉपिंग करने लगे और मैंने रौनक को एक शर्ट ले कर दी क्योंकि वह शर्ट मुझे बहुत ही अच्छी लग रही थी। मैंने रौनक को कहा कि यह सिर्फ तुम पर ही बहुत अच्छी लगेगी। रौनक कहने लगा कि तुम्हें मेरे लिए शर्ट लेने की जरूरत नहीं है लेकिन मैंने उससे बहुत जिद की और आखरी में उसे वह शर्ट अपने पास रखनी पड़ी। मैंने अपने लिए भी कुछ कपड़े ले लिए थे। हम लोग एक साथ समय बिता कर बहुत ही खुश थे। उसके बाद हम लोग वहां से डोमिनोस पिज़्ज़ा खाने चले गए। रौनक मुझे अपने हाथों से खिला रहा था और मैं भी उसे अपने हाथों से खिला रही थी। वह बहुत ही खुश था और मैं भी बहुत खुश हो रही थी। मुझे रौनक के साथ  वाकई में अच्छा लग रहा था। अब हम दोनों घर चले गए। रौनक ने मुझे मेरे घर पर छोड़ा और उसके बाद वह भी अपने घर चला गया। हम दोनों ऐसे ही समय बिताएं जा रहे थे और हमें एक दूसरे के साथ समय बिताना बहुत अच्छा लगता था जब रौनक मुझे फोन करता तो मैं उसका फोन तुरंत ही उठा लेती और मैं बहुत ही खुश होती जब उसका फोन आता था। हम दोनों अक्सर घूमने चले जाया करते थे।

एक बार मैं रौनक के घर पर चली गई। मैंने वहां देखा तो उसके कपड़े पूरे बिखरे पड़े हैं। मैंने उसे कहा कि तुम इतनी गंदगी में कैसे रह लेते हो। वो कहने लगा कि मुझे आदत पड़ चुकी है और मैं ऐसे ही रहना पसंद करता हूं। मैंने उसके सारे कपड़े ठीक कर दिया और वो कहने लगा कि तुम इतनी मेहरबानी मत करो मुझ पर। मैंने उससे कहा यह मेहरबानी वाली बात नहीं है मैं तुम्हारे घर की सफाई कर रही हूं। तुम्हें अच्छा लगेगा जब तुम साफ सफाई में रहोगे। अब रौनक भी मेरे साथ मेरी मदद करने लगा और हम दोनों ने मिलकर उस दिन पूरा घर साफ कर दिया। वह मुझे कहने लगा कि तुमने तो घर की सूरत ही बदल दी। पहले घर कितना गंदा था और अब बहुत साफ दिखाई दे रहा है। अब हम दोनों ऐसे ही बैठे हुए थे और बातें कर रहे थे।

हम दोनों काफी बातें कर रहे थे और अब रौनक मेरे लिए कुछ स्नेक्स पैक करा कर ले आया। हम दोनों स्नैक्स खा रहे थे तभी  स्नैक्स उसके ऊपर गिर गया। जैसे ही वह उसके ऊपर गिरा तो मैंने जल्दी से अपने हाथ को उस पर लगा दिया। जब मैंने उसके लंड पर हाथ लगाया तो वह खुश हो गया और उसने मुझे अपने गले लगा लिया। अब वह मेरे होठों को चूमने लगा और बहुत ही अच्छी से मेरे होठों को अपने होठों के अंदर ले रहा था वह बहुत ही खुश हो रहा था। मैं भी बहुत खुश थी क्योंकि मैं भी चाहती थी कि वह मुझे कभी किस करें लेकिन आज तक हम दोनों के बीच कभी भी किस नहीं हुआ था। ऐसा काफी देर तक हुआ और उसके बाद उसने मेरे सारे कपड़े खोल दिए। मैं उसके सामने नग्न अवस्था में थी और वह मेरे स्तनों को बहुत ही अच्छे से चूस रहा था जिससे कि मुझे बहुत अच्छा लग रहा था उसने काफी देर तक मेरे स्तनों का रसपान किया। उसने मेरे पूरे शरीर को चाटना शुरू कर दिया और मेरी योनि को भी वह अपने मुंह में लेकर चाट रहा था। मैंने भी उसके लंड को अपने मुंह में ले लिया और चूसना जारी रखा।

जब उसने अपने कपड़े खोले तो मैंने भी उसकी छाती को बहुत देर तक अपनी जीभ से चाटा। अब वह बहुत ही ज्यादा खुश हो चुका था और उसने मेरे दोनों पैरों को चौड़ा करते हुए मेरी योनि के अंदर जैसे ही अपने मोटे लंड को डाला तो मेरी चूत से खून निकल आया। मुझे बहुत ही अच्छा लगने लगा मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मेरी चूत मे कुछ जा रहा है उसके बाद वह मेरी चूत से बाहर आ रहा है। मुझे बहुत ही गर्म महसूस हो रहा था लेकिन मुझे अच्छा भी प्रतीत हो रहा था। उसने काफी देर तक मुझे ऐसे ही धक्के देने जारी रखा मेरी योनि बहुत ही ज्यादा टाइट थी इसलिए वह बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था। वह मुझे कहने लगा कि मेरे लंड में बहुत दर्द हो रहा है मैंने उसे कहा कि तुम मुझे झटके देते रहो। उसने मुझे पकड़कर बहुत तेजी से धक्के देने शुरू किया और मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। मैंने भी अब अपने दोनों पैरों को चौड़ा कर लिया जिससे कि वह मेरा पूरा साथ दे रहा था और मुझे ऐसा लग रहा था जैसे वो मुझे चोदता ही रहे। वह बहुत तेजी से झटके मार रहा था और उन्ही झटकों के बीच में ना जाने कब उसका वीर्य मेरे अंदर चला गया। मुझे बहुत ही अच्छा लगा जब उसका माल मेरी योनि के अंदर चला गया। हम दोनों ने कपड़े पहन लिया और हम दोनों बैठ कर बातें करने लगे। मेरी योनि से अब भी वीर्य टपक रहा था और मेरा खून भी निकल रहा था। मुझे रौनक के साथ सेक्स करते हुए बहुत ही अच्छा लगा। मैंने जब उसे इस बारे में बात की तो वह भी कहने लगा कि तुम्हारे साथ सेक्स करने में मुझे बहुत ही अच्छा महसूस हुआ।


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


bhai ne gand mari storysaxy ganddesi anty chutindian chut storychoti ladki chudaisex new in hindiwidow chachi ki chudaipdf hindi sex story downloadchudai ki didisuhagrat sexy picturehindi choodai ki kahaniSexrajsthani 19salcudai comkuwari bur chudailesbian sex hindi storychudai ki latest story in hindikaise kare chudaihindi bhai behan storymaa aur bete ki sexy kahanirandi ki gand chudaichoot fatibaap ne beti ki gand marisuhagraat pornbur ki kahani hindihindi group chudai storiesmaa aur beta sexgirl hindi sex storynew sexi kahanichoot bhabhi kirandi chut ki chudaipadosan ko chodaghar me chodasexi chudai kahanimaa ki kali chutpati k samne chodasexy story by hindihindi saxi storyhindi bhai behan ki chudaiindian desi kahanipariwarik sex storygand chudaihindi sexy story maa ko chodaससुर ने गांड मारीnew marathi sexy kathahindi sex story relationbaap chudaimaa chudai ki kahaniwww antrwasna comincest hindi chudaibehan bhai ki chudai storiesbhai behan ki gandi kahanixkahanichut ki kahani hindi mebehan aur bhabhi ko chodawww chudai ki hindi kahanisister ki choot marirand ki chudai storybudape me mari kuwari chut new sex storygalti se chud gaisexy gand ki chudaibalatkar jabardastisix chootladki ki chudai ki kahani in hindigili chuthindisexichudaikahanichudai ki kahani randi ki jubanisasur sex combhai behan storychote bhai ki biwi ko chodamaa ki chut storysexy story mami ko chodadidi ne sikhayagadha sex